क्वारनटीन पर मचा बवाल: LG के साथ बैठक में केजरीवाल ने पूछा- दिल्ली के लिए अलग नियम क्यों?

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है. टेस्टिंग में आई तेजी के बाद मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं. शनिवार सुबह तक कोरोना केस 53 हजार के पार पहुंच गए थे.

इस बीच दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल के क्वारनटीन पर दिए गए आदेश का पुरजोर विरोध किया है.

उपराज्यपाल अनिल बैजल ने आदेश दिया है कि अब दिल्ली में कोई भी कोरोना पॉजिटिव होगा तो उसको कम से कम 5 दिन क्वारनटीन सेंटर में जाना अनिवार्य होगा.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश से हटकर दिल्ली के लिए अलग नियम क्यों बनाए गए हैं. केजरीवाल ने इन बिंदुओं पर एलजी के आदेश का विरोध किया. उन्होंने कहा कि जब आईसीएमआर पूरे देश में बिना लक्षण और हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों को होम आइसोलेशन की इजाज़त देता है तो दिल्ली में अलग नियम क्यों?

ज्यादातर कोरोना पॉजिटिव मरीज हल्के लक्षण/बिना लक्षण वाले ही होते हैं इनको क्वारनटीन करने के लिए व्यवस्था कहां से करेंगे? रेलवे ने आइसोलेशन कोच दिए हैं लेकिन उसके अंदर इतनी गर्मी में कोई कैसे रहेगा?

हमारी प्राथमिकता गंभीर मरीजों के लिए होनी चाहिए या बिना लक्षण और हल्के लक्षण वालों के लिए? मेडिकल स्टाफ की पहले ही कमी है, अब हज़ारों मरीजों के लिए क्वारनटीन सेंटर पर डॉक्टर नर्स कहां से आएंगे?

क्वारनटीन होने के डर से अब हल्के लक्षण और बिना लक्षण वाले लोग टेस्ट कराने से बचेंगे, इससे संक्रमण और फैलेगा. उन्होंने कहा कि इससे दिल्ली में अफरातफरी हो जाएगी और पूरी व्यवस्था बिगड़ जाएगी. पूरी दुनिया में ऐसा कहीं नहीं किया गया कि बिना लक्षण वाले मरीज़ों को कोई सरकार क्वारनटीन सेंटर में लेकर आए.

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *