भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने थाना प्रभारी से की मुलाकात ,किसानों ने दी आंदोलन की चेतावनी

किसानों पर हत्या के साथ साथ विभिन्न धाराओं के 2 मामले दर्ज होने के मामले में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी थाना नारायणगढ़ पहुंचकर थाना प्रभारी से मिले, वहीं इसी मामले को लेकर कल मंडी और थाना में पुलिस फोर्स तैनात रही। चढूनी ने कहा कि पुलिस ने किसानों पर 2 मामले दर्ज किए हैं और उस मामले का पता किया गया है।

उन्होंने कहा कि भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों पर जो हत्या का मामला दर्ज किया गया है वह गलत है। यह झूठा मामला दर्ज किया गया है। भाजपा के लोग ओछी हरकतों पर उतर आए है। कल उनकी रैली में भरत सिंह नाम के व्यक्ति की हार्ट अटैक होने से मौत हो गई है। जिसको किसानों को हत्या दिखाकर कत्ल का मुकद्दमा दर्ज कर दिया गया है। और यहीं भाजपा का चरित्र है। अपने एक कार्यकर्ता से एक और मुकद्दमा काफी लोगों पर दर्ज करवाया है। इतना ही नहीं उन्हें रास्ते में रोककर जान से मारने की धमकी भी दी गई है।

चढूनी ने कहा कि नाराणगढ़ से शहजादपुर रोड जो कि स्टेट हाईवे भी नहीं है उसको राष्ट्रीय राजमार्ग दिखाया गया है। और कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह लोग भविष्य में हमारे कार्यकर्ताओं के साथ कुछ भी हरकत कर सकते है। इसलिए मेरे देश के सभी किसानों, मजदूरों और व्यापारियों से अनुरोध है कि वे लोग भी भाजपा का विरोद्ध करें। अगर यह मामला वापिस नहीं लिया गया तो यूनियन और किसानों बड़ा आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगे।

गौरतलब है कि कल की ट्रैक्टर रैली में बुजुर्ग भरतसिंह की अचानक हुई मौत पर जहां किसान नेताओं पर हत्या और राजमार्ग 72 को रोकने के 2 मामले दर्ज होने पर पुलिस भी सख्ती दिखा रही है। जिस पर मंडी और थाना में पुलिस बल तैनात है। बता दें कि थाने में किसी भी व्यक्ति को बिना इजाजत के जाने की अनुमति नहीं है। इस पर आने-जाने वालों पर सख्ती की गई है।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *